Nariyal Ki Barfi Recipe in Hindi- घर में कैसे बनाए नारियल की बर्फ़ी

हमारे WhatsApp Group से जुड़े Join Now

दोस्तों, Nariyal ki barfi एक पारम्परिक भारतीय मिठाई है। और Nariyal ki barfi भारत में लगभग सभी त्योहारों पर बनाई जाती है परंतु खासकर इसे उत्तर भारत में जन्माष्टमी पर तो यह जरूर बनती है। ये बर्फी बहुत ही स्वादिष्ट होती है। किसी भी त्यौहार पर आप इस मिठाई को बना कर घर की मिठाई का आनन्द ले सकते हैं

Nariyal ki barfi

यह सबसे ज़्यादा जन्माष्टमी या  दिवाली आदि अवसर में यह व्यंजन  बनाया जाता है। Nariyal ki barfi नारियल, खोया, घी और चीनी से तैयार की जाती है। इस रेसिपी को बनाना बहुत ही आसान है। और इसे आप त्योहार पे या किसीभी दिन दुकान से लाने की वजह घर पर ही आसान तरीको से बनाकर अपने बच्चों को खिला सकते है। आइये जानते है इसे बनाने का आसान ट्रिक ताकि आप इसे घर पे कभी भी बनाकर इसका आनंद ले सके।

Nariyal ki barfi बनाने की सामग्री :-

दोस्तों, Nariyal ki barfi को नारियल, खोया, घी और चीनी से तैयार की जाती है।

  • 1 से 2 कप नारियल, कद्दूकस किया हुआ 
  • 1 टेबल स्पून घी
  • 3 से 4 कप खोया
  • 1 से 2 कप चीनी
  • 1 से 2 कप पानी घी लगी हुई एक प्लेट
  • इलायची 5 से 6 छिली हुए
  • पिस्ते 15 से 20 बारीक काट ले
  • मावा 200 ग्राम

Nariyal ki barfi बनाने की विधि :-

  • के लिये गैस पर रखें। चमचे से चला कर मिला दें और 3 तार की चाशनी बना लें। ( चाशनी : चीनी पानी में घुल जाय और उबाल आ जाय।
  • यदि एसा नहीं है तो चाशनी को और पकायें और गैस बन्द कर दीजिये।
Nariyal ki barfi
  • से दबा दें। बर्फी को ठंडा होने के लिये रख दीजिये।
  • आपकी Nariyal ki barfi तैयार है।
  • Nariyal ki barfi अब आप खा सकते हैं,  बची हुई बर्फी को आप डिब्बे में रख कर फ्रिज में रख लीजिये और 12 दिन तक रोजाना खाइये

परोसने का तरीका :-

  • अब जब भी आपका मीठा खाने का मन करे तब इस स्वादिष्ट बर्फी को बनाएं, खुद खाएं और सभी को खिलाएं। पर त्योहारों पर भगवान के प्रसाद के रूप में
  • आप Nariyal ki barfi में केसर भी डाल सकते हैं केसर एक अलग कलर देगा बर्फी में जिससे वह और भी आकर्षक लगेगी।

सुझाव :-

  • ध्यान रखें बर्फी को बनाने के लिए नारियल को आप बहुत देर तक स्लाइस रंग में ना मिलाएं। केवल इसे आपने आंकलित पर एक से एक मिनट तक ही मापा और इस बर्फीले में आपको चीनी बहुत कम मिला, क्योंकि नारियल की बर्फ़ीली संरचना ही बहुत अच्छी है।
  • नारियल को मनचाहे आकार में काटने के लिए नारियल को कुछ देर के लिए पानी में भिगो कर काटें।
  • Nariyal ki barfi बनाते समय इसमें आप फुल क्रीम दूध का ही इस्तेमाल करें इससे बर्फी अच्छी बनती हैं।
  • Nariyal ki barfi में आप मिल्क पाउडर की जगह मावा या घर की फ्रेश मलाई भी डाल सकते हैं तब भी बर्फी स्वादिष्ट बनकर तैयार होगी।
Nariyal ki barfi
  • खुशबू बढ़ाने के लिए इलायची पाउडर का इस्तेमाल कर सकते हैं ये ऑप्शनल है।
  • आप चाहें तो Nariyal ki barfi को गार्निश करने के लिए ड्राई फ्रूट का इस्तेमाल कर सकते हैं।
  • इसमे चीनी की जगह आप गुड़ से भी बना सकते है। इससे इसका पूरा स्वाद ही बदल जायेगा।
  • अगर दो रंगों में बनाया गया है तो गैस बंद करने के बाद इसे दो रंगों में बांट दिया जाएगा। भागों में अपना पसंदीदा का डिज़ाइन रंग डालें। और आधा वाइट बने रहो।
  • Nariyal ki barfi बनाते समय आपको गैस की धीमा ही रखना होगा और ल‍गातार मिश्रण को चमचे से चलाते रहना होगा ताकि मिश्रण तले में न चिपके । 
  • यदि आप ताजा नारियल कद्दूकस करके डालने वाले हैं तो पहले नारियल को चख लें कई बार ताजा नारियल का खट्टापन का कारण बन जाता है । 
  • बारिश के मौसम में बर्फी को सेट होने में दिक्‍कत न हो इसके लिए मिश्रण को सेट होने से पहले अच्‍छा गाढ़ा कर लेना ज्‍यादा सही रहेगा। फिर आप फ्रिज में सेट होने रख दे ।

यह भी देखें :- Dodha Barfi Recipe in Hindi- डोडा बर्फ़ी बनाने की आसान विधि

नारियल खाने के फायदे :-

  • सूखे नारियल में गुड कॉलेस्‍ट्रॉल, फाइबर, मैग्नीशियम, कॉपर और सेलेनियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन,आयरन और विटामिन भी मौजूद होते हैं। इसलिए यह शरीर को एनर्जेटिक बनाए रखने में कारगर होता है। इसके एंटीऑक्सीडेंट गुण इन्फेक्शंस से बचाने में कारगर होते हैं।
  • नारियल में आयरन की मात्रा भरपूर होती है. ये हीमोग्लोबिन को बढ़ाता है.
Nariyal ki barfi
  • नारियल न्यूरोट्रांसमीटर के साथ-साथ माइलिन को बनाने में मदद करता है जो मस्तिष्क में इलेक्ट्रिकल सिग्नल्स आने-जाने में मदद करता है। इसलिए Nariyal ki barfi खाना मस्तिष्क स्वास्थ्य के लिए काफी अच्छा और स्वस्थ है। ये डेमेंशिया और अल्जाइमर जैसी न्यूरोलॉजिकल समस्या से जूझ रहे लोगों की मदद करता है।
  • नारियल में फाइबर होता है जो कब्ज या पेट से जुड़ी अन्य समस्याओं से राहत देने में मदद करता है। नारियल में कार्ब कम होता है और फाइबर ज्यादा होता है। इसलिए इससे आपका ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है।
  • Nariyal ki barfi से आपका वजन कम हो सकता है। अगर आप इसे सही मात्रा में खाएं तो।
  • सूखे नारियल का सेवन से हमारी दिल की सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है।

नारियल खाने के नुकसान :-

  • बहुत से लोग सूखे नारियल का सेवन पकवानों में डालकर, डिनर के साथ में या मिठाई के रूप में करते हैं। लेकिन अगर आप ज्यादा मात्रा में इसका सेवन कर रहे हैं, तो यह आपकी पेट संबंधी समस्याओं को बढ़ा सकता है। इससे आपको पेट में दर्द, उल्टी और अन्य पाचन संबंधी समस्याएं हो सकती हैं।
  • सूखे नारियल में प्राकृतिक शुगर होती है। लेकिन अधिक मात्रा में इसका सेवन करने से शरीर में ब्लड शुगर लेवल बढ़ सकता है। डायबिटीज रोगियों को बहुत सावधानीपूर्वक सूखे नारियल का सेवन करना चाहिए।
  • सूखे नारियल को लोग सीधे तौर पर बहुत कम ही खाते हैं। इसका प्रयोग मीठे व्यंजनों में बहुत अधिक होता है। सूखे नारियल का अधिक सेवन करने आपकी नियमित कैलोरी खपत बढ़ती है। साथ ही मीठे के साथ में यह आपके शरीर का वजन बढ़ाने में योगदान देता है।
  • इसके अधिक सेवन से पेट में दर्द, उल्टी या पाचन संबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। सूखा नारियल शरीर में ब्लड शुगर की समस्या को भी अनियंत्रित कर
  • सूखे नारियल का अधिक सेवन करने से डायबिटीज के मरीजों के लिए भी नुकसानदायक हो सकता है। क्यूंकि इसमें शुगर पाई जाती है जिससे डायबिटीज के रोगियों का शुगर लेवल भी बढ़ सकता है।

निष्कर्ष :-

दोस्तों, मुझे विस्वास है आपको ये Nariyal ki barfi की रेसिपी बनाने कि विधि बहुत पसंद आयी होगी। अगर कोई बाजार का Nariyal ki barfi ना खाना चाहे तो आप इस लेख से घर पर ही Nariyal ki barfi बनाने का आसान तरीका बताया गया है। जिससे आप रेस्टोरेंट या होटल से लाने की बजाय घर पर आसान तरीकों से बना सकते हैं।

इसके साथ साथ इस रेसिपी में Nariyal ki barfi खाने के फायदे और नुकसान दोनों ही बताए गए हैं। अगर इससे लेकर कोई भी डाउट है तो आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है।  या फिर अगर आपको इसके अलावा कोई और रेसिपी के बारे में जानना है जो कि मैंने अभी तक नहीं बताया है तो आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है। मैं कोशिश करुँगी कि आपके सवालो के जवाब जल्द से जल्द दे दू।

क्या इसमें सूखे नारियल (गोला) का इस्तेमाल कर सकते हैं?

जी हाँ, इसमें सूखे नारियल का इस्तेमाल तो कर सकते हैं लेकिन यदि इसे ताजे नारियल से बनाये तो यह बहुत ही स्वादिस्ट और टेस्टी बनती है।

Nariyal ki barfi को आप कैसे स्टोर करते हैं?

Nariyal ki barfi को हम सूखे हवादार कंटेंनर में कर के स्टोर कर सकते है हम इसका ज्यादा दिनों तक सेवन कर सकते है।

मेरी Nariyal ki barfi क्यों नहीं जम रही है?

अगर आप नारियल के मिश्रण को गैस पर से जल्दी उतार लेते हैं तो यह ठंडा होने के बाद सेट नहीं हो पाता है और कट करते समय उखड़ने लगता है तो इसका मतलब है की आपको इसे थोड़ा और पकाने की जरूरत है आप चाहे तो थोड़ा और भी डाल सकते हैं यह जब अच्छी तरह से पक जाएगा तब अच्छे से सेट हो जाएगा।

 क्या मैं सूखे नारियल को पानी में भिगो सकता हूँ?

जबकि तकनीकी रूप से आप ऐसा कर सकते हैं, लेकिन Nariyal ki barfi का स्वाद और स्थिरता तब बेहतर होती है जब आप इसे पानी के बजाय दूध में भिगोते हैं।

सूखा नारियल खाने से क्या नुकसान है?

इसके अधिक सेवन से पेट में दर्द, उल्टी या पाचन संबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। सूखा नारियल शरीर में ब्लड शुगर की समस्या को भी अनियंत्रित कर सकता है। ऐसे व्यक्ति को खासकर डायबिटीज के रोगियों को सूखे नारियल का सेवन करने से पहले एक्सपर्ट की सलाह जरूर लेनी चाहिए।

Nariyal ki barfi को ठंडा कैसे करें?

नारियल के पानी को आइस क्यूब ट्रे में जमा दें और नारियल पानी के बर्फ के टुकड़ों का उपयोग पेय पदार्थों को उनके स्वाद को कम किए बिना ठंडा और हाइड्रेट करने के लिए करें।

हमारे WhatsApp Group से जुड़े Join Now

1 thought on “Nariyal Ki Barfi Recipe in Hindi- घर में कैसे बनाए नारियल की बर्फ़ी”

Leave a comment