छोले भटूरे-Chole Bhature Recipe in Hindi

हमारे WhatsApp Group से जुड़े Join Now

छोले भटूरे पंजाब की बहुत ही पसंदीदा डिश है। और यह खाने में बहुत ही लाजवाब लगता है। इसे हम सभी लोग पसंद करते हैं। अपने रेस्टोरेंट में छोले भटूरे खाया होगा। लेकिन अगर आप चाहे तो घर पर बनाकर इसका आनंद उठा सकते हैं। इसे घर पर आसानी से पकाया जा सकता है।

यह इंडिया के लोगों के साथ-साथ विदेशी लोगों को भी बहुत पसंद आने वाला भोजन है। छोले की पहचान उसके मसाले और भटूरे से होती है। छोले भटूरे एक ऐसी रेसिपी है जिससे आप ब्रेकफास्ट,लंच,डिनर किसी भी समय खा सकते हैं। और यह रेसिपी बड़ों से लेकर बच्चों तक बहुत ही पसंद होता है।

छोले भटूरे

भटूरे के लिए आवश्यक सामग्री:-

  • बेकिंग सोडा 3 से 4 छोटी चम्मच
  •  दही 100 ग्राम आधा कप
  •  मैदा 400 ग्राम चार कप
  •  चीनी 1 छोटी चम्मच
  •  नमक 3 से 4 छोटी चम्मच
  •  सूजी 50 से 60 ग्राम आधा कप
  •  तेल तलने के लिए

भटूरे बनाने की विधि:-

छोले भटूरे
  • मैदा और सूजी को किसी बर्तन में छान कर निकाल दीजिए। मैदा के बीच में जगह बनाएं।
  • फिर 2 स्पून तेल, नमक, बेकिंग सोडा,दही और चीनी इसमें डालकर इन सब चीजों को अच्छी तरीके से मिलाइए।
  • गुनगुने पानी की सहायता से नरम आटे को अच्छी तरीके से गूथ लीजिये।
  • गुथे हुए आटे को 2 घंटे के लिए बंद अलमारी या किसी गर्म जगह पर ढक कर रख दीजिए।
  • कढ़ाई में तेल डालकर गर्म करिए। गुथे हुए आटे को थोड़ा सा निकाल कर लोई बनाईए और पूरी तरह बेलिए, उसको थोड़ा सा मोटा बेलिए।
  • पूरी को गर्म तेल में डालिए। कलछी से दबाकर बुलाए। दोनों तरफ पलट कर हल्का सा ब्राउन होने तक तलते रहिए।
  • एक प्लेट में पेपर नैपकिन बिछाइये, तले हुए भटूरे को निकाल कर प्लेट में रखीए।
  • सारे भटूरे कोई इसी तरह बनाकर तैयार कर लीजिये।
  • गरमा गरम भटूरे तैयार है। छोले,अचार, हरे धनिए की चटनी के साथ गरमा गरम स्वादिष्ट भटूरे को परोसीए।

सुझाव:-

  • भटूरे को आप तभी बने जब आपको खाने का मन हो क्योंकि यह ठंडा होने के बाद बिल्कुल भी अच्छा नहीं लगता है।
  • भटूरे को बहुत ज्यादा पतला या बहुत ज्यादा मोटा ना बेले।
  • ध्यान रखें कि तेल बहुत ज्यादा गरम ना हो नहीं तो भटूरा तेल में डालने से बाद तुरंत ही गहरे भूरे रंग के हो जायेंगे।
  • भटूरे के आटे को ज्यादा ना गुंडे क्योंकि बाद में इस रोल करना मुश्किल होगा।

छोले के लिए आवश्यक सामग्री:-

  • सफेद चना (काबुली चना) 250 ग्राम 
  • बेकिंग सोडा आधा छोटी चम्मच
  • 4 से 5 मीडियम साइज के बारीक कटे हुए टमाटर
  • बारीक कटी हुई हरी मिर्च
  • बारीक कटा हुआ अदरक और अदरक का पेस्ट
  • रिफाइंड तेल 2 स्पून
  • हींग
  • जीरा आदि छोटी चम्मच
  • अनारदाना पाउडर एक छोटी चम्मच से अधिक
  • धनिया पाउडर डेढ़ छोटी चम्मच
  • गरम मसाला एक चौथाई छोटी चम्मच
  • लाल मिर्च पाउडर एक चौथाई छोटा चम्मच
  • नमक अपने स्वाद अनुसार

छोले बनाने की विधि:-

छोले भटूरे
  • चने को रात भर पानी में भीगने छोड़ दे। पानी से निकाल कर चैन को धोकर कुकर में डालिए।
  • उसके बाद एक छोटा गिलास पानी,नमक और बेकिंग सोडा मिला दीजिए।
  • कुकर बंद करें और गैस पर उबलने के लिए छोड़ दीजिए।
  • कुकर में सीट आने के बाद गैस को माध्यम आंच पर कर दीजिये। और 2 से 3 मिनट तक पकने दीजिये।
  • गैस बंद कर दीजिए और सिटी निकलने तक चने को कुकर में ही रहने दीजिए। तक हम मसाला तैयार कर लीजिए।
  • टमाटर,हरी मिर्च, अदरक को मिक्सी में बारीक पीस लीजिये।
  • कढ़ाई में तेल डालकर गर्म करें हींग,जीरा और अनार दाना डाल दीजिए। जरा भूनने के बाद धनिया पाउडर डाल दीजिए।
  • फिर इसको चलते रहिये और टमाटर अदरक हरी मिर्च का मिश्रण और लाल मिर्च पाउडर को मसाले में डालकर भूनते रहे।
  • जब तक भूने तब तक की मसाले के ऊपर तेल का उबाल ना आ जाए। फिर भुने मसाले में एक गिलास पानी और अपने स्वाद अनुसार नमक डाल दीजिए।
  • कुकर खोलीए और चने को कुकर से निकाल लीजिए। और मसाले में डालकर अच्छी तरह मिलाइए। और यदि आपको छोला गाढ़ा लग रहा हो तो अपनी आवश्यकता अनुसार पानी मिला दीजिए।
  • उबाल आने के बाद 2 से 3 मिनट तक पकने दीजिये। अब गैस बंद कर दीजिए और गरमा गरम मसाला और आधा हरा धनिया मिला दीजिए।
  • अब आपका गरमा गरम छोले तैयार है। अब छोले को एक बड़े बर्तन में निकाल लीजिए। हरा धनिया ऊपर से डालकर उसकी सजा दीजिए। अब गरमा गरम बोले को भटूरे और चावल के साथ पड़ोसी और स्वाद लेकर खाइये।

Read More :- वेज पुलाव-Veg Pulao Recipe in Hindi

सुझाव:-

  • आप काबुली चना की जगह पर छोटी वाली चने का भी उपयोग कर सकते हैं।
  •  छोले को गरमा गरम भटूरे के साथ खाये क्योंकि भटूरा ठंडा होने के बाद अच्छा नहीं लगता है।

छोले भटूरे परोसने का तरीक़ा:-

इसे छोले मसाले, सलाद और लस्सी के साथ दोपहर या रात के खाने में परोसे। इसे आप किसी भी सब्जी के साथ परोस सकते हैं। गरम भटूरे को छोले,कटे हुए प्याज और नींबू के साथ परोसे।

छोले भटूरे को सजाने की विधि:-

छोले भटूरे
  • अब गरमा गरम बोले को प्लेट में रखे और उसे पर तेज पत्तियों को छीड़क दे।
  • और साथ ही साथ ताजा हरा धनिया और नमकीन नींबू के टुकड़े डालें।
  • भटूरे को छोले के साथ प्लेट में रखे। और तड़कने के लिए ताजा हरा धनिया डालें।
  • अब छोले भटूरे को गरमा गरम परोसे और और इस खाने का आनंद लें।

पोषक तत्व:-

ऊर्जा 427 केलोरी 
प्रोटीन 10.8 ग्राम 
कार्बोहाइड्रेट50.3 ग्राम 
फाइबर 12 ग्राम 
वसा 20.1 ग्राम 
कोलेस्ट्रॉल 1.5 मिली ग्राम 
सोडियम16.2 मिली ग्राम 

स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं:-

दोस्तों छोले भटूरे स्वाद में स्वादिष्ट होते हैं लेकिन इस खाने से जोड़ी को स्वास्थ्य संबंधी समस्या पर ध्यान देना जरूरी है। भटूरे को डीप फ्राई करने से कैलोरी और वसा की मात्रा बढ़ जाती है। जो संभावित रूप से वजन बढ़ाने और हृदय स्वास्थ्य से संबंधी समस्याऐ हो सकती है। और छोले के करी में सोडियम सामग्री उच्च रक्तचाप वाले व्यक्तियों के लिए चिंता का विषय बन सकता है। अधिक स्वस्थ तरीके से छोले भटूरे का आनंद लेने के लिए इसे ताजा सलाह दिया कम वसा वाले दही के साथ मिलाकर खाएं।

छोले भटूरे से होने वाले नुकसान:-

  • पेट खराब होना अक्सर देखा जाता है कि लोग ज्यादा मैदा खाने से उनका पेट खराब हो जाता है।
  • अधिक मैदा खाने से तेजी से मोटापा बढ़ता है।
  •  इससे हड्डियां भी कमजोर होती है।
  •  इससे फूड एलर्जी भी हो सकता है।
  •  इम्यून सिस्टम कमजोर होता है।
  •  मधुमेह भी हो सकता है।

छोले भटूरे को हेल्दी बनाने का तरीका :-

छोले भटूरे को ज्यादा हेल्दी बनाने का कोई विशेष तरीका नहीं है, लेकिन नीचे दी गई टिप्स आपके काम आ सकती है।

  • भटूरे बनाने के लिए केवल मैदे का उपयोग किया जाता है लेकिन आप चाहे तो इस पर आटे भी मिला सकते हैं ताकि इसकी पौष्टिकता बढ़ाई जा सके।आटा स्वास्थ्य के लिए बेहतर है।
  • अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर की समस्या है तो छोले भटूरे में कम मसाले का उपयोग करें।
  • हाई कोलेस्ट्रॉल वाले रोगियों को कम तला हुआ खाने की सलाह दी जाती है लेकिन भटूरे बिना तालेबान नहीं बनाई जा सकते। आप चाहे तो इसके लिए सामान्य तेल की

निष्कर्ष:-

दोस्तों मुझे पूरा विश्वास है कि आपको यह गरमा गरम छोले भटूरे बहुत ही पसंद आए होंगे। और आपको यह पता चल गया होगा कि इसको बनाना कितना आसान है। अगर आपको इस रेसिपी से लेकर को कोई भी डाउट हो तो आप कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं।

छोले भटूरे और पूरी में क्या अंतर है?

पूरी को आटे से बनाया जाता है और भटूरे को मैदे से। और भटूरे में बेकिंग सोडा मिलाया जाता है ताकि वह नरम हो सके। और आटे में तेल मिलाया जाता है।

क्या डायबिटिज वाले मरीज भटूरा खा सकते हैं?

मधुमेह रोगी हृदय रोगी और अधिक वजन वाले व्यक्ति और वजन घटाने के रोगियों के लिए अच्छा नहीं होता है।

छोले को कितने समय के लिए भिगोना चाहिए?

छोले बनाने के लिए हमेशा कम से कम 8 से 10 घंटे पहले ही भिगोने देना होता है। या फिर पूरी रात  पानी में छोड़ दे। क्योंकि रात भर भीगी बोले को बनाने में आसानी होती है और यह अच्छी तरह से उबल जाता है।

क्या छोले भटूरे सेहत के लिए अच्छा होता है?

छोले व भटूरे तेलिया पदार्थ होता है। यह भारतीय में पसंदीदा आइटम मना जाता है। लेकिन यह तेल वह संतृप्त वसा से भरपूर होता है।

क्या हम हफ्ते में एक बार छोले भटूरे खा सकते हैं?

अगर आप अपनी डाइट पर और अपने शरीर पर मेहनत कर रहे हैं तो कभी कभार छोले भटूरे जैसा हल्का भोजन करना भी ठीक है।

भटूरे के मैदा में क्या-क्या पड़ता है?

भटूरा बनाने के लिए सिर्फ मैदा ही जरूरी नहीं होता बल्कि इसमें बेकिंग सोडा सूजी दही आदि मिलन होता है।

छोले भटूरे कब खा सकते हैं?

छोले भटूरे को लोग इसे नाश्ता, लंच, डिनर कभी भी खा सकते है।

हमारे WhatsApp Group से जुड़े Join Now

1 thought on “छोले भटूरे-Chole Bhature Recipe in Hindi”

Leave a comment